आदिवासी क्षेत्र कोटड़ा की बेडाधर में आजादी के सत्तर साल बाद भी कोई सुविधा नहीं
Title: आदिवासी क्षेत्र कोटड़ा की बेडाधर में आजादी के सत्तर साल बाद भी कोई सुविधा नहीं View Translations like
Uploaded Date and Time: May 9, 2017, 4:07 p.m.
Creator: Adivasi Vinod
Likers:
Uploaded By: Adivasi Vinod Kumar
Description: उदयपुर जिले की कोटड़ा तहसील कार्यालय से 45 किमी दूर नई बनी पंचायत बेडाधर पंचायत के लोगो ने बुधवार को गांव में मूलभूत सुविधाएं न मिलने से हथियारो के साथ प्रदर्शन किया | इस आंदोलन की खास वजह थी आजादी के सत्तर साल बाद भी यहाँ के गांव में बिजली,पानी,सड़क,अस्पताल,और राशन के दुकान की सुविधा भी नहीं है | यहाँ के ग्रामीणों का कहना है की हमारे गांव की समस्या के लिए हमने बीते वर्ष भी ऐसा ही धरना किया था,पर फिर भी अभीतक कुछ सुधार नहीं हुआ | जागरूक नागरिक और समाजसेवी सोहनलाल ने बताया की यहाँ प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत 2007 में सड़क बनाने के लिए भी शुरुआत हुई पर सड़क नहीं बनी,और सामग्री वैसी ही पड़ी रही | मामेर से 20 किमी दूर बेडाधर पंचायत का रास्ता भी ठीक नहीं है | जहाँ एक तरफ सारे राजस्थान को बिजली देने की बात चल रही है और बिजली की सुविधा हो गई है,लेकिंन यहाँ करीब 30 सालो से बिजली के खम्बो को लगाकर रखा है पर बिजली लोगो के घर में नहीं पहुंची | यहाँ की मूलभूत सुविधाओं से वंचित ग्रामीणों की समस्या कई बार अधिकारी सुन गए पर स्थिति जस की तस है | इस पंचायत में सूरा,माणसी,आम्बा,बेडाधर,खारवाणी,और झेर गांव शामिल है |यहाँ के ग्रामीणों का कहना है की यहाँ उपस्वाथ्य केंद्र तो बना हुआ है पर यहाँ कोई नहीं आता |अगर किसी महिला की डिलवरी होनी होती है तो कई बार महिला की जान भी चली जाती है | बरसात के समय में कई बार ग्रमीणो का सम्पर्क पूरी तरह अन्य गांव के साथ साथ जहाँ शहर जाना होता है वह टूट जाता है | यहाँ की समस्या को लेकर कई बार ज्ञापन दिया पर समाधानं कुछ भी नहीं किया | कल हुए आंदोलन में आदिवासी समुदाय अपने दैनिक जीवन में और जिन हथियारों को अपने घरो में रखते है उन्हें अपने साथ लाये और पहले पंचायत पर रूककर अधिकारियो का इंतजार किया | अधिकारियो के न आने पर ग्रामीण रैली निकालकर मामेर पहुंचे | वहाँ उपस्थित अधिकारियोंने ने हमेशा की तरह इस बार भी कहा की आप लिखित में दीजिये, हम कारवाही करेंगे | लेकिन लोगो ने कहा की अब हम ज्ञापन नहीं देंगे क्योंकि इससे पहले कई बार शिकयत दर्ज करवा चुके भी पर आपके द्वारा कुछ भी नहीं किया गया | ग्रामीणों की सभी समस्याओं को सुन अधिकारी ने वादा किया की हम कल ही सड़क का काम शुरू करेंगे और अन्य समस्या के समाधान केआस्वाशन दिए | यहाँ कोटड़ा तहसील के अधिकतर कर्मचारी गण मौजूद रहे |
Number of Downloads: 1

Comments. Total: 0

Login to comment